Chandrayaan 3 Launch चंद्रयान-3 के बारे में रोचक तथ्य!

Seema Haider News

Chandrayaan 3 Launch Date and Time news in Hindi
पूरी दुनिया की नजर भारत की तरफ है क्योंकि  भारत chandrayaan 3 को जल्द अंतरिक्ष में भेजने वाला है,  बाहुबली रॉकेट के जरिए chandrayaan-3 को चांद तक पहुंचाया जाएगा, ऐसे में कई लोगों के मन में बड़ा सवाल यह है कि आखिर 14 जुलाई को ही chandrayaan 3 की लॉन्चिंग क्यों हो रही है इसके पीछे का कारण क्या है ? 

भारत का तीसरा चंद्रमा मिशन है और इसका उद्देश्य चंद्रमा की सतह पर सुरक्षित और नरम लैंडिंग का प्रदर्शन करना है.

Chandrayaan 3 Launch

Chandrayaan 3 Launch Date and Time news in Hindi कब और कहां से होगा चंद्रयान-3 का प्रक्षेपण?

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी कि इसरो ने अपने बयान में कहा है कि 14 जुलाई 2023 को दोपहर के लगभग 2:00 बजे सतीश धवन स्पेस सेंटर से चंद्रयान तीन मिशन को लांच किया, जाएगा chandrayaan-3 पर पूरी दुनिया की तीखी नजर है 

लैंडर और रोवर से सुसज्जित, अंतरिक्ष यान चंद्रमा की लगभग दो महीने लंबी यात्रा पर निकलेगा.अगर यह मिशन सफल तरीके से हो जाता है तो भारत के लिए बड़ी कामयाबी होगी 

Chandrayaan-3 को लेकर कई सारे सवाल है लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि आखिर क्यों 14 जुलाई को ही चंद्रयान को लांच किया जाएगा 

श्रीधर पणिक्कर सोमनाथ जो भारत के सफल इंजीनियर है और ISRO के चेयरमैन भी है उन्होंने बताया कि 14 जुलाई का दिन साल के बाकी दिनों की तुलना में धरती और चांद से ज़्यादा करीब होते हैं. यही कारण है कि चंद्रयान 2 का प्रक्षेपण 22 जुलाई 2022 के दिन हुआ था. यह भी कहा जा रहा है कि यदि 14 जुलाई के दिन प्रक्षेपण होता है तो ISRO अगस्त के आखिरी सप्ताह तक चंद्रमा पर उतरने के लिए तैयार हो जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

शेयर मार्केट से बनेगे करोड़पति बस मत करना ये 10 गलतियों – Stock Market Tips in Hindi Stock Market Tips: शेयर मार्केट से करोड़पति कैसे बनें? Share Market Tips in Hindi Chhath Puja 2023 छठ पूजा की पौराणिक कथा, श्री राम और द्रौपदी ने रखा था व्रत Chhath Puja 2023 : छठ पूजा का शुभ मुहूर्त, 4 दिवसीय छठ पर्व, खरना, डूबते सूर्य को अर्घ्‍य, उगते सूर्य को अर्घ्‍य, छठ पूजा का महत्व ट्रेन हादसा: न्यू दिल्ली दरभंगा में लगी आग, धुआं धुआं हुई बोगियां