Diwali 2023 – दिवाली की पूजा में मत करना 7 गलतियां, महालक्ष्मी नहीं रखेगी आपके घर में कदम

Diwali ki

Diwali 2023 – दिवाली का त्यौहार आ चुका है जिसे भारत में सबसे महत्व पूर्ण त्योहार माना जाता है इस त्यौहार पर महालक्ष्मी और कुबेर देवता जैसे कई देवताओं की पूजा अर्चना की जाती है लेकिन पूजा करते समय कुछ ऐसी बात है जो ध्यान में रखना बहुत ही जरूरी है अगर यह गलतियां आप करते हो तो पूरा साल आपके लिए खराब हो सकता है 

दिवाली के समय मां लक्ष्मी की पूजा का काफी ज्यादा महत्व माना जाता है वैसे तो सभी देवताओं की पूजा होती है लेकिन पूजा करने में अगर कुछ ऐसी गलतियां हो जाती है तो उसका बुरा प्रभाव पड़ सकता है

Diwali 2023 – दिवाली पूजा में क्या करें, क्या ना करें

diwali getty 9 sixteen nine

दिवाली में पूजा करते समय, जोर-शोर से ताली बजाना और ऊंची आवाज़ में आरती गाना न करें। मान्यता है कि लक्ष्मी मां को अधिक शोर-शराबा पसंद नहीं है, और यह उन्हें रुष्ट कर सकता है। विष्णु जी के बिना लक्ष्मी मां की पूजा अधूरी मानी जाती है, इसलिए उनकी पूजा अकेले नहीं करें।

Diwali 2023 – घर में कोई भी पुराना और कबाड़ सामान न रखें। यह अशुभ माना जाता है। खराब घड़ी, टूटी बोतल, शीशा, फटे-पुराने कपड़े, और अन्य कबाड़ जिन्हें आप सालों से इस्तेमाल नहीं करते, उन्हें दिवाली के दिन घर से बाहर निकाल दें।

दिवाली के दिन किसी भी चीज़ को बनाने से पहले सोचें कि वह मां लक्ष्मी को नाराज़ न करें। खान-पान का खास ध्यान रखना चाहिए। इस दिन मांस-मछली, शराब आदि का सेवन न करें।

दिवाली की रात, फटे-पुराने कपड़े न पहनें। इससे घर में दरिद्रता की निशानी मानी जाती है। पूजा के समय रंगों का भी ध्यान रखें, काले रंग के कपड़े नहीं पहनें।

दिवाली के दिन कोशिश करें कि अपने घर में ही रहें। पूजा करने के बाद कहीं भी ताला लगाकर बाहर न जाएं। पूजा के समय पूरे घर को दीपक से जगमग कर दें, किसी भी कोने में अंधेरा न रहने दें। घर की सारी खिड़कियाँ और दरवाजें खुले रखें ताकि लक्ष्मी जी का प्रवेश हो सके। रिश्तेदारों या पड़ोसियों के यहाँ जाने पर घर में लाइट्स जलते रहने दें, अंधेरा न करें। रात में भी लाइट्स बंद न करें।

पूजा करने के बाद, पूजा स्थल को खाली या अंधेरा न करें। यहाँ रात भर दीपक जलता रहे, इसके लिए पर्याप्त मात्रा में दीपक में तेल और घी का उपयोग करें। कोशिश करें कि पूजा के लिए दीपक थोड़े बड़े हों।

दिवाली के दिन पूजा करने का विशेष महत्व है। इसलिए पूजा स्थल और घर की साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें। मान्यता है कि लक्ष्मी जी उसी घर में प्रवेश करती हैं जहाँ साफ-सफाई होती है। इसलिए पूजा के दिन घर और पूजा स्थल को जरूर साफ रखें।

पूजा स्थल पर मां लक्ष्मी और भगवान गणेश की मूर्ति का मुख पूर्व दिशा में होना चाहिए और पूजा करने वाला अपना पीठ उत्तर की तरफ करके बैठना चाहिए। पूजा में चांदी के सिक्के, कमल के फूल आदि को भी रखना चाहिए, जिससे घर में खुशियाँ, सुख-समृद्धि, और सौभाग्य की वृद्धि हो।

शेयर मार्केट से बनेगे करोड़पति बस मत करना ये 10 गलतियों – Stock Market Tips in Hindi Stock Market Tips: शेयर मार्केट से करोड़पति कैसे बनें? Share Market Tips in Hindi Chhath Puja 2023 छठ पूजा की पौराणिक कथा, श्री राम और द्रौपदी ने रखा था व्रत Chhath Puja 2023 : छठ पूजा का शुभ मुहूर्त, 4 दिवसीय छठ पर्व, खरना, डूबते सूर्य को अर्घ्‍य, उगते सूर्य को अर्घ्‍य, छठ पूजा का महत्व ट्रेन हादसा: न्यू दिल्ली दरभंगा में लगी आग, धुआं धुआं हुई बोगियां