IPO GMP, IPO Grey Market Premium Today Latest Live IPO GMP

IPO GMP today

IPO GMP का मतलब होता है “ग्रे मार्केट प्रीमियम” (Grey Market Premium)। जब किसी कंपनी का आईपीओ (Initial Public Offering) आने वाला होता है, तो उसके प्रशासकिय ख़ाते (Registrar Account) में शेयर्स की ख़रीदारी के लिए पंजीकरण होता है। लेकिन आईपीओ के पंजीकरण के बाद और शेयर्स की ख़रीदारी के पहले के बीच कुछ व्यक्तियों या दलों के बीच शेयर्स की खरीद-बिक्री होती है जिसे “ग्रे मार्केट” कहा जाता है। इस ग्रे मार्केट में प्रायः शेयर्स की कीमत आईपीओ की तय होने वाली कीमत से ऊपर या नीचे होती है।

Follow Our Whats App Channel

Current IPO GMP Today

Search:
{{titleItem}}
{{item}}
< Previous   |   Next >
{{titleItem}}

Upcoming IPO List

IPO में ग्रे मार्केट प्रीमियम क्या है | What is GMP in IPO in Hindi

Grey Market Kya Hai In Hindi- शेयर मार्केट में जब भी कोई नया आईपीओ आता है तो उससे पहले लोग उसके ग्रे मार्केट प्रीमियम के बारे में जानते हैं पिछले जितने भी आईपीओ आए उनके ग्रे मार्केट प्रीमियम काफी अच्छे थे ग्रे मार्केट प्रीमियम आईपीओ पर सटीक भविष्यवाणी बताता है कई निवेशकों का माना जाता है कि अगर आईपीओ की मांग ज्यादा है तो ग्रे मार्केट प्रीमियम काफी ज्यादा होगा इसीलिए कई सारे निवेदक ग्रे मार्केट प्रीमियम के आधार पर भी आईपीओ में निवेश करते हैं

वैसे आपको बता दें कि ग्रे मार्केट प्रीमियम सेबी या फिर से बाजार का कोई भी हिस्सा नहीं है यह सिर्फ आईपीओ की मांग पर कैलकुलेशन के द्वारा निकाला गया भाव होता है जिसमें माना जाता है कि आईपीओ की लिस्टिंग इस भाव तक हो सकती है हालांकि पिछले जितने भी आईपीओ आए उन पर ग्रे मार्केट प्रीमियम की सटीक भविष्यवाणी निकली है

GMP की गणना कैसे की जाती है?

आईपीओ खुलने के बाद ग्रे मार्केट प्रीमियम की जानकारी मिल जाती है इसकी जानकारी आप हमारे वेबसाइट पर भी देख सकते हो Live Grey Market Premium यहां पर हम मांग के आधार पर और ग्रे मार्केट प्रीमियम बताते हैं

ग्रे मार्केट प्रीमियम की गणना मार्केट में शेरों की डिमांड पर रहती है मान लीजिए कि अगर एक बेहतरीन कंपनी का शेयर मार्केट में आने वाला है या फिर टाटा और रिलायंस की कंपनी का शेयर आता है तो ज्यादा से ज्यादा निवेशक इसमें पैसा लगा सकते हैं इस मांग को देखते हुए ग्रे मार्केट प्रीमियम तय होता है और सटीक भविष्यवाणी बताता है

IPO ग्रे मार्केट के फायदे

  • IPO की लिस्टिंग से पहले लिस्टिंग का अंदाजा लगाकर अधिक मुनाफा कमा सकते हैं.
  • वे सभी Securities जिनका स्टॉक एक्सचेंज में ट्रेडिंग से Suspension हैं उन्हें ग्रे मार्केट में ट्रेड करने का मौक़ा मिलता है.
  • अगर आपको शेयर बाजार के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है या फिर आपके पास ज्यादा समय नहीं है तो आप ग्रे मार्केट प्रीमियम के आधार पर आईपीओ में निवेश कर सकते हो यह सबसे बेहतरीन तरीका है निवेश करने का
  • वैसे आपको बता दें कि कई बार लंबी अवधि के लिए ग्रे मार्केट प्रीमियम को देखना नहीं चाहिए अगर आप लंबे समय के लिए निवेश कर रहे हो तो आपको लंबे समय का टारगेट लेना होता है इसीलिए ग्रे मार्केट प्रीमियम के आधार पर लंबे समय के लिए निवेश नहीं करना चाहिए
  • आईपीओ में पैसा लगाना काफी अच्छा रिटर्न देता है लेकिन कई बार यह नेगेटिव रिटर्न भी देता है ग्रे मार्केट प्रीमियम के द्वारा आपको यह भी जानकारी मिल जाएगी कि किस आईपीएल में आपको पैसा नहीं लगाना चाहिए जिस तरह से जोमैटो के आईपीओ का ग्रे मार्केट प्रीमियम काफी कमजोर था और लिस्टिंग भी काफी कमजोर हुई उसी तरह से आपको ग्रे मार्केट प्रीमियम सही और गलत आईपीओ के बारे में जानकारी देता है

Note :- आईपीओ ग्रे मार्केट प्रीमियम को लेकर सेबी ने अपनी अलग से गाइडलाइन दी है जिसके मुताबिक इसमें बताए गए भाव पर कभी ज्यादा निवेश नहीं करना चाहिए क्योंकि यह अनौपचारिक रूप से है आप अपने हिसाब से इसमें निवेश कर सकते हो 

LIVE :- IPO Grey Market Premium

What is IPO Grey Market Premium ?

IPO Grey Market Premium (GMP) is the difference between the unofficial market price of an IPO’s shares in the grey market and its IPO price. The grey market operates outside the official stock exchange and is an informal market where investors trade shares before they are listed on the stock exchange. The grey market premium reflects the demand and sentiment of investors for a particular IPO before its listing.

When a company announces its intention to launch an IPO, some investors and traders start buying and selling the company’s shares in the grey market even before the IPO shares are officially listed for trading on the stock exchange. This creates a premium or discount to the IPO price based on market expectations, perceived valuation, and overall market sentiment.

If the demand for the IPO is high and investors are willing to pay a higher price in the grey market, the IPO grey market premium will be positive. This indicates that investors expect the stock’s price to increase significantly when it starts trading on the stock exchange.

On the other hand, if the demand for the IPO is low, or there are concerns about the company’s prospects, the grey market premium may be negative, suggesting that the IPO may list at a discount to its issue price. If you want to more details on How to Invest in IPO You can Comment Below

शेयर मार्केट से बनेगे करोड़पति बस मत करना ये 10 गलतियों – Stock Market Tips in Hindi Stock Market Tips: शेयर मार्केट से करोड़पति कैसे बनें? Share Market Tips in Hindi Chhath Puja 2023 छठ पूजा की पौराणिक कथा, श्री राम और द्रौपदी ने रखा था व्रत Chhath Puja 2023 : छठ पूजा का शुभ मुहूर्त, 4 दिवसीय छठ पर्व, खरना, डूबते सूर्य को अर्घ्‍य, उगते सूर्य को अर्घ्‍य, छठ पूजा का महत्व ट्रेन हादसा: न्यू दिल्ली दरभंगा में लगी आग, धुआं धुआं हुई बोगियां