मुकेश अंबानी करेंगे Jio IPO का अनाउंसमेंट, Jio IPO Price, GMP, IPO details hindi

JIO ipo gmp today

Stock Market के सभी निवेशक JIO के धमाकेदार आईपीओ का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं क्योंकि Reliance Industries का JIO IPO ताबड़तोड़ कमाई करवा सकता है इसके पीछे कई बड़े कारण है क्योंकि जिओ फाइनेंस सर्विस भारत में बड़ा खेल करने वाला है टेलीकॉम सेक्टर के बाद अब रिलायंस फाइनेंस सर्विसेस में अपने पैर पसारने वाली है कुछ ऐसा बड़ा भारत में करने वाली है जो अब तक किसी ने नहीं किया इसीलिए ज्यादातर निवेशक जियो फाइनेंसियल सर्विसेज के आईपीओ का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं

Reliance Industries (RIL) की 46वीं एनुअल जनरल मीटिंग (AGM) 28 अगस्त को दोपहर 2:00 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कुछ ही दिनों पहले अपनी फाइनेंशियल सर्विसेज यूनिट का डीमर्जर किया है। नई यूनिट का नाम जियो फाइनेंशियल सर्विसेज (JFS) है। 20 जुलाई को ‘प्री-ओपन कॉल ऑक्शन’ में कंपनी के शेयर का भाव 261.85 रुपए तय किया गया था। इसकी लिस्टिंग को लेकर भी AGM में जानकारी दी जा सकती है।

वैसे आपको बता दें कि हाल ही में रिलायंस इंडस्ट्री ने अमेरिका के बड़े इन्वेस्टर के साथ हाथ मिलाया है जिसके बाद कंपनी भारत में बड़ा निवेश करने वाली है फाइनेंसियल सर्विसेज में कंपनी तेजी से आगे बढ़ सकती है शेयर बाजार के एनल स्टोर का मानना है कि इस बार कंपनी कुछ बड़ा करने वाली है इसीलिए इतना बड़ा निवेश भारत में होने वाला है जिओ फाइनेंसियल सर्विस में अगर आप भी निवेश करना चाहते हो तो नीचे कमेंट करके जरूर बताएं

READ MORE : IPO Allotment Tips & Tricks in Hindi Get Allotment for IPO hindi

रिलायंस कंपनी की स्थापना 1966 में धीरुभाई अंबानी ने की थी। जी हां, इस कंपनी की शुरुआत धीरुभाई अंबानी ने की थी। बाद में, उनके पुत्र मुकेश अंबानी ने इस कंपनी के नेतृत्व को संभाला और वह उसे एक महाशक्ति बना दिया।

आज, रिलायंस एक संघटित समृद्धि और उद्यमिता की निगरानी करने वाली कंपनी है जो ने भारत के विभिन्न क्षेत्रों में अपने पैर जमाए हैं। यह कंपनी पेट्रोलियम रिफाइनिंग और गैस, पेट्रोकेमिकल्स, नतीजा उत्पादन, खाद्य और आपूर्ति श्रृंगार, रिटेल और टेलीकॉम्यूनिकेशन सेवाएं उपलब्ध कराती है।

आईपीओ (IPO) क्या है और इसका महत्व

आईपीओ का मतलब “आईनीशीअल पब्लिक ऑफरिंग” है, और यह एक विधि है जिसमें कंपनी अपने स्टॉक्स का सार्वजनिक बजार में बेचने के लिए सेक्यूरिटीज और शेयर्स का आयोजन करती है। इस तरीके से, कंपनी अपने स्टॉक्स के एक हिस्सेदार बनने के लिए जनता को मौका देती है।

आईपीओ एक विशाल वित्तीय गतिविधि है जो कंपनियों को उनके विकास के लिए उद्यमियों और निवेशकों के मध्य एक भागीदारी का रास्ता प्रदान करता है। यह नए और अनुभवी उद्यमियों को एक मौका देता है जो वित्तीय संसाधनों की आवश्यकता होती है और उन्हें अपने उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए संवेदनशील स्थान प्रदान करता है।

आईपीओ का लाभ

  1. नए उद्यमियों के लिए संसाधनों का उपलब्ध करना: आईपीओ कंपनियों को नए और विकसित होने वाले क्षेत्रों में निवेश करने के लिए वित्तीय संसाधन प्राप्त करने का मौका देता है। यह उन्हें नए प्रोजेक्ट्स पर ध्यान केंद्रित करने की अनुमति देता है और उन्हें अपने उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए आवश्यक संसाधनों का उपयोग करने में मदद करता है।
  2. सार्वजनिक अभियांत्रिकी: आईपीओ से, कंपनी अपने स्टॉक्स को लोगों के बीच सार्वजनिक रूप से बेचती है जिससे उन्हें अधिक विश्वास और प्रतिष्ठा मिलती है।
  3. उद्यमियों को लाभ: नए निवेशकों के लिए आईपीओ एक विकल्प होता है जिससे उन्हें बड़े कंपनियों में निवेश करने का मौका मिलता है। यह उन्हें निवेश करने के अच्छे और विश्वसनीय विकल्पों की पहचान करने में मदद करता है और उन्हें उद्यमिता से जुड़े रहने का मौका देता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

शेयर मार्केट से बनेगे करोड़पति बस मत करना ये 10 गलतियों – Stock Market Tips in Hindi Stock Market Tips: शेयर मार्केट से करोड़पति कैसे बनें? Share Market Tips in Hindi Chhath Puja 2023 छठ पूजा की पौराणिक कथा, श्री राम और द्रौपदी ने रखा था व्रत Chhath Puja 2023 : छठ पूजा का शुभ मुहूर्त, 4 दिवसीय छठ पर्व, खरना, डूबते सूर्य को अर्घ्‍य, उगते सूर्य को अर्घ्‍य, छठ पूजा का महत्व ट्रेन हादसा: न्यू दिल्ली दरभंगा में लगी आग, धुआं धुआं हुई बोगियां